लाजपत नगर मार्केट बंद: दिल्ली की नामी लाजपत नगर मार्केट अनिश्चितकाल के लिए बंद

कोरोना वायरस संक्रमण को लेकर तय किए नियमों का उल्लंघन करना लोगों के साथ अब कारोबारियों की मुश्किलें भी बढ़ा रहा है। ताजा मामले में कोरोना के दिशा-निर्देशों के उल्लंघन पर दिल्ली की नामी लाजपत नगर मार्किट को अगले आदेश तक के लिए बंद तक दिया गया है। डीएम के आदेश पर यह आदेश लागू किया गया है। उधर, दिल्ली के यमुनापार के बाजारों में भी कोरोना नियमों की धज्जियां उड़ाने वाले लोगों पर प्रशासन की गाज गिरनी शुरू हो गई है। प्रशासन नियमों का उल्लंघन करने वालों से अब सख्ती से निपट रहा है। पिछले छह दिनों के अंदर प्रशासन 16 से अधिक दुकानों व दो ढाबों को सील कर चुका है। प्रशासन की टीमें मार्केट में घूम-घूमकर तलाश कर रही हैं, कौन सी दुकानों पर ज्यादा नियमों का उल्लंघन हो रहा है। प्रशासन को गीता कालोनी में सबसे ज्यादा उल्लंघन खाने पीने की दुकानों पर मिला, प्रशासन ने बिना देर किए यहां चार दुकानों को सील कर दिया। गांधी नगर मार्केट में एक साथ 12 दुकानों को सील कर दिया गया। 29 जून की रात को प्रशासन ने लक्ष्मी नगर मार्केट को पांच दिनों के लिए बंद कर दिया था। इससे व्यापारी काफी परेशान हो गए थे, तीन दिन बाद प्रशासन को मार्केट खोलनी पड़ गई थी। प्रशासन के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि प्रशासन अब विचार कर रहा है, पूरी मार्केट को बंद न करके सिर्फ उन्हीं दुकानों पर कार्रवाई की जाए जहां पर नियमों का उल्लंघन होता मिले। लगातार मार्केट एसोसिएशन के साथ बैठकें की जा रही है, लेकिन मार्केट में ठीक तरह से नियमों का पालन नहीं हो पा रहा है। प्रशासन के अधिकारी अपनी टीम से मार्केट की वीडियो और फोटो मंगवा रहे हैं। उसके बाद छापा मारकर दुकानों को सील कर रहे हैं। प्रशासन के सामने बहुत बड़ी चुनौती है, कोरोना को फैलने से रोकने की। यह बात दुकानदारों को भी समझनी चाहिए, व्यापार के साथ ही कोरोना का भी ध्यान रखें। प्रशासन के अधिकारी निगम और पुलिस अधिकारियों को भी आड़े हाथ लेते हुए चेता रहे हैं कि बाजारों में नियमों का सख्ती से पालन करवाएं।

Popular posts from this blog

एटीएस की छापेमारी: लखनऊ में विस्फोटक के साथ अलकायदा के दो आतंकी गिरफ्तार, कुकर बम मिलने से हड़कंप

गोरखपुर में जलभराव: दो घंटे की बारिश से डूब गईं शहर की सड़कें, किसानों के चेहरे पर आई मुस्कान

मिमिक्री आर्टिस्ट माधव मोघे का निधन: दामिनी और घातक जैसी फिल्मों का भी रहे हिस्सा