विश्वनाथ परिसर का हिस्सा ढहा, दो की मौत

योगिता निर्वाण श्री काशी विश्वनाथ कॉरिडोर में ललिता घाट के पास मंगलवार को तड़के करीब साढ़े तीन बजे दो मंजिला प्राचीन गोयनका छात्रवास का एक हिस्सा ढह गया | मलबे में दबने से दो मजदूरों की मौत हो गई जबकि सात घायल हो गए | प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंडलायुक्त को फोन कर हादसे की जानकारी ली और मृतकों के परिजनों के प्रति संवेदना जताई | साथ ही सभी घायलों को तत्काल उचित चिकित्सा सहायता उपलब्ध कराने के लिए निर्देश दिए | बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने हादसे पर दुख जताया | सरकार की महत्वकांक्षी श्री काशी विश्वनाथ कॉरिडोर परियोजना के लिए करीब 100 वर्ष पुराने गोयनका छात्रावास का अधिकरण किया जा चुका है | सोमवार रात कुछ मजदूर छात्रवास में सो रहे थे | अचानक छात्रावास का एक हिस्सा ढह गया और मलबे में दबकर बंगाल के मालदा जिले के कालिया चक के निवासी अब्दुल मोमिन और अमीनुल मोमिन की मौत हो गई | वहीं, अब्दुल जब्बार, इमरान, आरिफ मोमिन, शाहिद अख्तर, सकीउल मोमिन, और हाकिम खान घायल हो गए | संबंधित एजेंसी मेसर्स पीएसपी मंदिर प्रशासन ने मृतकों के परिजनों को पांच - पांच लाख की मदद व घायलों को पचास - पचास हजार की राशि दी गई है |

Popular posts from this blog

मुंबई मे भारी बारीश से 15 की मौत, लोकल ट्रेनों का संचालन रोका गया

अयोध्या में बड़ा हादसाः सरयू में स्नान करते समय एक ही परिवार के 12 लोग डूबे, पुलिस व पीएसी के गोताखोर लगाए गए

एटीएस की छापेमारी: लखनऊ में विस्फोटक के साथ अलकायदा के दो आतंकी गिरफ्तार, कुकर बम मिलने से हड़कंप