भारत में वैक्सीन की वजह से पहली मौत हुई, 68 साल के बुजुर्ग की थमी साँसे

भारत में कोरोना वैक्सीन की वजह से पहली मौत की पुष्टि की गई है. सरकारी पैनल के मुताबिक, 68 साल के एक बुजर्ग की वैक्सीन लगने की वजह से जान चली गई है. भारत में कोरोना वैक्सीन लगने के बाद पहली मौत की पुष्टि हो चुकी है. वैक्सीन की वजह से 68 साल के एक बुजुर्ग की मौत हो चुकी है. ये बात केंद्र सरकार की ओर..से गठित पैनल की रिपोर्ट में सामने आई है. इंडिया टुडे के पास ये रिपोर्ट है. वैक्सीन लगने के बाद कोई गंभीर बीमारी होने या मौत होने को वैज्ञानिक भाष भाषा में एडवर्स इवेंट फॉलोइंग इम्यूनाइजेशन (AEFI) कहा जाता है. AEFI के लिए केंद्र सरकार ने एक कमेटी गठित की है. इस कमेटी ने वैक्सीन लगने के बाद हुई 31 मौतों का असेसमेंट करने के बाद कन्फर्म किया कि 68 साल के एक बुजुर्ग की मौत वैक्सीन लगने के बाद एनाफिलैक्सीस से हुई. ये एक तरह का एलर्जिक रिएक्शन होता है. बुजुर्ग को 8 मार्च 2021 को वैक्सीन की पहली डोज लगी थी और कुछ दिन बाद ही उनकी मौत हो गई थी.AEFI कमेटी के चेयरमैन ने क्या कहा? AEFI कमेटी के चेयरमैन डॉ. एनके अरोड़ा ने इंडिया टुडे से पहली मौत की पुष्टि की है. हालांकि, उन्होंने इस मामले मे आगे कुछ भी कहने से इनकार कर दिया तीन और मौतों की वजह वैक्सीन को माना गया है, लेकिन अभी पुष्टि होना बाकी है. सरकारी पैनल की रिपोर्ट कहती है, "वैक्सीन...से जुड़े हुए अभी जो भी रिएक्शन सामने आ रहे हैं, उनकी उम्मीद पहले से ही थी, जिन्हें मौजूदा साइंटिफिक एविडेंस के आधार पर वैक्सीनेशन के लिए जिम्मेदार ठहराया जा सकता है. ये रिएक्शन एलर्जी से संबंधित या एनाफिलैक्सीस जैसे हो सकते हैं.
"

Popular posts from this blog

मुंबई मे भारी बारीश से 15 की मौत, लोकल ट्रेनों का संचालन रोका गया

अयोध्या में बड़ा हादसाः सरयू में स्नान करते समय एक ही परिवार के 12 लोग डूबे, पुलिस व पीएसी के गोताखोर लगाए गए

एटीएस की छापेमारी: लखनऊ में विस्फोटक के साथ अलकायदा के दो आतंकी गिरफ्तार, कुकर बम मिलने से हड़कंप