एम्स में 6 से 12 साल के बच्चों को दी गई वैक्सीन की डोज

एम्स में बच्चों पर कोरोना वैक्सीन के ट्रायल में शुक्रवार को 6 से 12 साल के बच्चों को वैक्सीन की खुराक दी गई। टीका लगाने के बाद बच्चों को घर भेज दिया गया है। इससे पहले 12 से 18 साल के बच्चों को कोवाक्सिन की डोज दी जा चुकी है और इस आयुवर्ग का ट्रायल पूरा हो चुका है। अस्पताल प्रशासन के मुताबिक, कुछ बच्चों को वैक्सीन की डोज दी जा चुकी है। ये बच्चे 6 से 12 साल के बीच के थे। इसके बाद 2 से 6 साल के बीच के बच्चों को परीक्षण में शामिल किया जाएगा। जिन बच्चों को वैक्सीन लगाई गई है। वह पूरी तरह से स्वस्थ हैं। डॉक्टरों की एक टीम लगातार उनकी निगरानी कर रही है। भारत के दवा नियामक ने कोवैक्सीन का दो साल के बच्चे से ले कर 18 साल की उम्र के किशोरों पर परीक्षण करने की मंजूरी 12 मई को दे दी थी। इससे पहले पटना स्थित एम्स में बच्चों में यह पता लगाने के लिए परीक्षण शुरू हो चुका है कि क्या भारत बायोटेक के टीके बच्चों के लिए ठीक हैं।

Popular posts from this blog

मुंबई मे भारी बारीश से 15 की मौत, लोकल ट्रेनों का संचालन रोका गया

अयोध्या में बड़ा हादसाः सरयू में स्नान करते समय एक ही परिवार के 12 लोग डूबे, पुलिस व पीएसी के गोताखोर लगाए गए

एटीएस की छापेमारी: लखनऊ में विस्फोटक के साथ अलकायदा के दो आतंकी गिरफ्तार, कुकर बम मिलने से हड़कंप