डीयू दाखिले 2021 : दिल्ली विश्वविद्यालय में पढ़ना चाहते हैं, तो जान लीजिए कोर्सेज और पात्रता मानदंड

12वीं की परीक्षा पास करने के बाद अक्सर कई छात्र कोर्स या पाठ्यक्रम के चयन को लेकर उलझन में रहते हैं तो कुछ बेहतर यूनिवर्सिटी या कॉलेज के चुनाव को लेकर। देश के लाखों छात्रों की पहली पसंद दिल्ली विश्वविद्यालय रहता है। क्योंकि, दिल्ली विश्वविद्यालय (डीयू) भारत के सबसे प्रतिष्ठित विश्वविद्यालयों में से एक है। हर साल हजारों लोग दिल्ली विश्वविद्यालय में प्रवेश के लिए आवेदन करते हैं, लेकिन वास्तव में कुछ मुट्ठी भर छात्रों को ही डीयू यानी दिल्ली यूनिवर्सिटी में प्रवेश मिल पाता है। छात्रों के दिल्ली विश्वविद्यालय में प्रवेश पाने में विफल रहने के कई कारण हैं, जैसे कि उन्हें विश्वविद्यालय के विभिन्न पाठ्यक्रमों के लिए पात्रता मानदंड या योग्यता नियमों की पर्याप्त जानकारी नहीं होना। ऐसे में दिल्ली विश्वविद्यालय में किसी भी पाठ्यक्रम में आवेदन करने से पहले, छात्रों को पात्रता मानदंड के बारे में पता कर लेना चाहिए। दिल्ली विश्वविद्यालय 2021 बैच में प्रवेश के लिए पात्रता मानदंड जानने के अलावा, उम्मीदवारों को डीयू आवेदन 2021 की प्रक्रिया के बारे में भी अच्छी तरह से पता होना चाहिए। इसलिए, हम यहां दिल्ली विश्वविद्यालय में दाखिले के इच्छुक छात्रों के लिए डीयू पात्रता मानदंड 2021 के बारे में बता रहे हैं। डीयू में आवेदन करने की योजना बना रहे उम्मीदवारों को सभी दस्तावेजों के साथ पूर्ण पंजीकरण और आवेदन प्रक्रिया भी अच्छे से समझ लेनी चाहिए। दिल्ली विश्वविद्यालय 2021 बैच में दाखिला आवेदन के दिल्ली विश्वविद्यालय की आधिकारिक वेबसाइट पर नियमित अपडेट की जानकारी लेना आवश्यक है। दिल्ली विश्वविद्यालय पात्रता मानदंड 2021 दिल्ली विश्वविद्यालय के प्रत्येक पाठ्यक्रम में पात्रता और योग्यता मानदंड के अपने नियम होते हैं, जिसके बारे में आवेदक छात्रों को जानकारी होनी चाहिए। सामान्य तौर पर किसी विश्वविद्यालय में दाखिले के लिए पात्रता मानदंड के अनुसार, आवेदन करने वाले उम्मीदवारों को 10 + 2 उत्तीर्ण होना चाहिए। यूजी पाठ्यक्रमों में आवेदन के लिए कोई आयु सीमा नहीं है। हालांकि, महत्वपूर्ण बात ये है कि याद कोई छात्र 12वीं के बाद इंजीनियरिंग पाठ्यक्रम जैसे बीटेक में दाखिला चाहता है तो उसे प्रवेश जेईई मेन के अंकों के आधार पर किया जाएगा। यहां दिल्ली विश्वविद्यालय के सभी प्रमुख स्नातक पाठ्यक्रमों के लिए प्रवेश पात्रता मानदंड बताए गए हैं : पाठ्यक्रम पात्रता एवं योग्यता विवरण बीए / बी कॉम 12वीं कक्षा में कुल मिलाकर न्यूनतम 40% अंक होना जरूरी। बी. वोक (वोकेशलन) 12वीं कक्षा में कुल मिलाकर न्यूनतम 40% अंक होना जरूरी। बीए (ऑनर्स) / बी कॉम (ऑनर्स) 12वीं कक्षा में कुल मिलाकर न्यूनतम 45% अंक होना जरूरी। बीएससी (ऑनर्स) गणित 12वीं कक्षा के गणित विषय में 50% अंक होना जरूरी। बीएससी (ऑनर्स) बॉटनी, जूलॉजी, माइक्रोबायोलॉजी कुल तीन विषयों में न्यूनतम 55% या अधिक अंक। एक अनिवार्य भाषा यानी अंग्रेजी में 50% अंकों के साथ उत्तीर्ण होना जरूरी। बीटेक (इंफोर्मेशन टेक्नोलॉजी और मैथेमेटिकल इनोवेशन) / बीए (ऑनर्स) मानविकी और सामाजिक विज्ञान सामान्य श्रेणी - 60% अंक। ओबीसी श्रेणी - 54% अंक। पीडब्ल्यूडी / सीडब्ल्यू श्रेणी - 57% अंक। बीए (ऑनर्स) मल्टीमीडिया / मास कम्युनिकेशन सामान्य वर्ग के लिए 75% अंक अंग्रेजी में 85% अंक। बीएमएस / बीए (ऑनर्स) बिजनेस इकोनॉमिक्स / बीबीए (एफआईए) सामान्य वर्ग के लिए - 60% अंक। एससी / एसटी / ओबीसी के लिए - 55% अंक। यहां दिल्ली विश्वविद्यालय के सभी प्रमुख स्नातकोत्तर पाठ्यक्रमों के लिए प्रवेश पात्रता मानदंड बताए गए हैं : पाठ्यक्रम पात्रता एवं योग्यता विवरण बी एड विज्ञान / सामाजिक विज्ञान / मानविकी / वाणिज्य या किसी समकक्ष संकाय में स्नातक या परास्नातक डिग्री। एम एड कम से कम 50% अंकों से स्नातक डिग्री के साथ बी एड, बीए बी एड, बीएससी बी एड, बी ईएल एड और डीईएल एड पास। एमए स्नातक की डिग्री एमसीए स्नातक डिग्री या समकक्ष डिग्री एमएससी स्नातक की डिग्री उत्तीर्ण एम कॉम बी कॉम/ बी कॉम (ऑनर्स) / बीए (ऑनर्स) इकोनॉमिक्स / बीबीएस / बीबीए / बीबीए / बीआईएफए / बीबीई पास। एलएलबी स्नातक / स्नातकोत्तर डिग्री उत्तीर्ण। एलएलएम तीन या पांच वर्षीय एलएलबी डिग्री पास होना जरूरी। मास्टर ऑफ फिजिकल एजुकेशन बैचलर ऑफ फिजिकल एजुकेशन या बीएससी इन हेल्थ एंड फिजिकल एजुकेशन कम से कम 50% के साथ पास होना चाहिए। 12वीं की परीक्षा पास करने के बाद अक्सर कई छात्र कोर्स या पाठ्यक्रम के चयन को लेकर उलझन में रहते हैं तो कुछ बेहतर यूनिवर्सिटी या कॉलेज के चुनाव को लेकर। देश के लाखों छात्रों की पहली पसंद दिल्ली विश्वविद्यालय रहता है। क्योंकि, दिल्ली विश्वविद्यालय (डीयू) भारत के सबसे प्रतिष्ठित विश्वविद्यालयों में से एक है। हर साल हजारों लोग दिल्ली विश्वविद्यालय में प्रवेश के लिए आवेदन करते हैं, लेकिन वास्तव में कुछ मुट्ठी भर छात्रों को ही डीयू यानी दिल्ली यूनिवर्सिटी में प्रवेश मिल पाता है। छात्रों के दिल्ली विश्वविद्यालय में प्रवेश पाने में विफल रहने के कई कारण हैं, जैसे कि उन्हें विश्वविद्यालय के विभिन्न पाठ्यक्रमों के लिए पात्रता मानदंड या योग्यता नियमों की पर्याप्त जानकारी नहीं होना। ऐसे में दिल्ली विश्वविद्यालय में किसी भी पाठ्यक्रम में आवेदन करने से पहले, छात्रों को पात्रता मानदंड के बारे में पता कर लेना चाहिए। दिल्ली विश्वविद्यालय 2021 बैच में प्रवेश के लिए पात्रता मानदंड जानने के अलावा, उम्मीदवारों को डीयू आवेदन 2021 की प्रक्रिया के बारे में भी अच्छी तरह से पता होना चाहिए। इसलिए, हम यहां दिल्ली विश्वविद्यालय में दाखिले के इच्छुक छात्रों के लिए डीयू पात्रता मानदंड 2021 के बारे में बता रहे हैं। डीयू में आवेदन करने की योजना बना रहे उम्मीदवारों को सभी दस्तावेजों के साथ पूर्ण पंजीकरण और आवेदन प्रक्रिया भी अच्छे से समझ लेनी चाहिए। दिल्ली विश्वविद्यालय 2021 बैच में दाखिला आवेदन के दिल्ली विश्वविद्यालय की आधिकारिक वेबसाइट पर नियमित अपडेट की जानकारी लेना आवश्यक है। दिल्ली विश्वविद्यालय पात्रता मानदंड 2021 दिल्ली विश्वविद्यालय के प्रत्येक पाठ्यक्रम में पात्रता और योग्यता मानदंड के अपने नियम होते हैं, जिसके बारे में आवेदक छात्रों को जानकारी होनी चाहिए। सामान्य तौर पर किसी विश्वविद्यालय में दाखिले के लिए पात्रता मानदंड के अनुसार, आवेदन करने वाले उम्मीदवारों को 10 + 2 उत्तीर्ण होना चाहिए। यूजी पाठ्यक्रमों में आवेदन के लिए कोई आयु सीमा नहीं है। हालांकि, महत्वपूर्ण बात ये है कि याद कोई छात्र 12वीं के बाद इंजीनियरिंग पाठ्यक्रम जैसे बीटेक में दाखिला चाहता है तो उसे प्रवेश जेईई मेन के अंकों के आधार पर किया जाएगा। यहां दिल्ली विश्वविद्यालय के सभी प्रमुख स्नातक पाठ्यक्रमों के लिए प्रवेश पात्रता मानदंड बताए गए हैं : पाठ्यक्रम पात्रता एवं योग्यता विवरण बीए / बी कॉम 12वीं कक्षा में कुल मिलाकर न्यूनतम 40% अंक होना जरूरी। बी. वोक (वोकेशलन) 12वीं कक्षा में कुल मिलाकर न्यूनतम 40% अंक होना जरूरी। बीए (ऑनर्स) / बी कॉम (ऑनर्स) 12वीं कक्षा में कुल मिलाकर न्यूनतम 45% अंक होना जरूरी। बीएससी (ऑनर्स) गणित 12वीं कक्षा के गणित विषय में 50% अंक होना जरूरी। बीएससी (ऑनर्स) बॉटनी, जूलॉजी, माइक्रोबायोलॉजी कुल तीन विषयों में न्यूनतम 55% या अधिक अंक। एक अनिवार्य भाषा यानी अंग्रेजी में 50% अंकों के साथ उत्तीर्ण होना जरूरी। बीटेक (इंफोर्मेशन टेक्नोलॉजी और मैथेमेटिकल इनोवेशन) / बीए (ऑनर्स) मानविकी और सामाजिक विज्ञान सामान्य श्रेणी - 60% अंक। ओबीसी श्रेणी - 54% अंक। पीडब्ल्यूडी / सीडब्ल्यू श्रेणी - 57% अंक। बीए (ऑनर्स) मल्टीमीडिया / मास कम्युनिकेशन सामान्य वर्ग के लिए 75% अंक अंग्रेजी में 85% अंक। बीएमएस / बीए (ऑनर्स) बिजनेस इकोनॉमिक्स / बीबीए (एफआईए) सामान्य वर्ग के लिए - 60% अंक। एससी / एसटी / ओबीसी के लिए - 55% अंक। यहां दिल्ली विश्वविद्यालय के सभी प्रमुख स्नातकोत्तर पाठ्यक्रमों के लिए प्रवेश पात्रता मानदंड बताए गए हैं : पाठ्यक्रम पात्रता एवं योग्यता विवरण बी एड विज्ञान / सामाजिक विज्ञान / मानविकी / वाणिज्य या किसी समकक्ष संकाय में स्नातक या परास्नातक डिग्री। एम एड कम से कम 50% अंकों से स्नातक डिग्री के साथ बी एड, बीए बी एड, बीएससी बी एड, बी ईएल एड और डीईएल एड पास। एमए स्नातक की डिग्री एमसीए स्नातक डिग्री या समकक्ष डिग्री एमएससी स्नातक की डिग्री उत्तीर्ण एम कॉम बी कॉम/ बी कॉम (ऑनर्स) / बीए (ऑनर्स) इकोनॉमिक्स / बीबीएस / बीबीए / बीबीए / बीआईएफए / बीबीई पास। एलएलबी स्नातक / स्नातकोत्तर डिग्री उत्तीर्ण। एलएलएम तीन या पांच वर्षीय एलएलबी डिग्री पास होना जरूरी। मास्टर ऑफ फिजिकल एजुकेशन बैचलर ऑफ फिजिकल एजुकेशन या बीएससी इन हेल्थ एंड फिजिकल एजुकेशन कम से कम 50% के साथ पास होना चाहिए।

Popular posts from this blog

मुंबई मे भारी बारीश से 15 की मौत, लोकल ट्रेनों का संचालन रोका गया

अयोध्या में बड़ा हादसाः सरयू में स्नान करते समय एक ही परिवार के 12 लोग डूबे, पुलिस व पीएसी के गोताखोर लगाए गए

एटीएस की छापेमारी: लखनऊ में विस्फोटक के साथ अलकायदा के दो आतंकी गिरफ्तार, कुकर बम मिलने से हड़कंप