राजस्थान में महिला आइएएस तेजस्वी राणा के तबादले ने पकडा तूल

जयपुरः राजस्थान के चित्तौड़गढ़ में उपखंड अधिकारी आईएएस अधिकारी तेजस्वी राणा के तबादले ने तूल पकड़ लिया है। केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने इसे दुर्भाग्यपूर्ण बताया है। प्रदेश भाजपा अध्यक्ष सतीश पूनिया ने कहा कि सरकार अच्छा काम कर रही है अधिकारियों को निशाना बना रही है। बताते हैं कि चित्तौड़गढ़ जिले की बेंगू विधानसभा सीट से विधायक राजेंद्र सिंह बिधूड़ी महिला कांग्रेस अध्यक्ष नीतू कंवर के पति कान सिंह भाटी की कार से अपनी विधानसभा क्षेत्र के गंगरार कस्बे में लोगों का हालचाल पूछने जा रहे थे। इसी दौरान उपखंड अधिकारी तेजस्वी राणा ने उनका वाहन को रुकवाया विधायक ने अपने परिचय दिया तथा मुख्यमंत्री के निर्देश पर लोगों के हाल-चाल जानने के लिए आने की बात कही। राणा ने उनकी एक न सुनी और गाड़ी संचालन का स्वीकृति पत्र नहीं होने का हवाला देते हुए वहां मौजूद थाना अधिकारी सुमेर सिंह को वाहन का चालान काटने के निर्देश दिए। इसी दिन राणा सब्जी मंडी में भी पहुंची और शारीरिक दूरी का पालन नहीं करने पर व्यापारियों को डांटा फटकारा। आरोप है कि उन्होंने व्यापारियों के पास भी फाड़ दिए थे। उसी दिन तेजस्वी राणा का तबादला कर दिया गया। अब तबादले पर राजनीति गरमा गई है। केंद्रीय मंत्री शेखावत ने राज्य सरकार की कार्यप्रणाली पर सवाल उठाते हुए कहा कि प्रदेश में कोरोनावायरस से लड़ने में अधिकारी जी-जान से अपना दायित्व निभा रहे हैं लेकिन लोगों का सख्ती से पालन करा रही महिला अधिकारी का राजनीति कारणों से तबादला दुर्भाग्यपूर्ण है। इससे कोरोना से जंग लड़ रहे अधिकारियों के मनोबल पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ सकता है।


Popular posts from this blog

मुंबई मे भारी बारीश से 15 की मौत, लोकल ट्रेनों का संचालन रोका गया

अयोध्या में बड़ा हादसाः सरयू में स्नान करते समय एक ही परिवार के 12 लोग डूबे, पुलिस व पीएसी के गोताखोर लगाए गए

एटीएस की छापेमारी: लखनऊ में विस्फोटक के साथ अलकायदा के दो आतंकी गिरफ्तार, कुकर बम मिलने से हड़कंप