पत्नी की यादों में सराबोर होकर लिखी पुस्तक जनकनन्दिनी जानकी का पत्नी की पुण्यतिथि पर किया लोकार्पण

पूर्वी दिल्लीः सुविख्यात कवि एवं प्रधानाचार्य डॉ कृष्ण कान्त मधुर ने अपनी धर्मपत्नी स्वः पूनम शर्मा की पुण्यतिथि पर प्रार्थना सभा का आयोजन एमसीडी फ्लैट न्यू उस्मानपुर अपने निवास पर किया। इस अवसर पर भजन गायक जगदीश भारद्वाज ने सुमधुर भजनों की प्रस्तुति दी। वरिष्ठ कवि राम चरण सिंह साथी ने अपने मंच संचालन द्वारा कवयित्री प्रीति विश्वास एवं प्रिया गोस्वामी का कविता पाठ कराया तथा स्वयं भी श्रेष्ठ कविताएं सुनाईं।



सहायक शिक्षा निदेशक अम्बुज कुमार के कर-कमलों से कृष्ण कान्त मधुर द्वारा लिखित पुस्तक जनकनन्दिनी जानकी का लोकार्पण किया गया। इस अवसर पर कवियत्रि प्रीति विश्वास ने कहा की पूनम शर्मा मेरी मां समान थीं और मेरे बहुत करीब थी आज एक साल बीतने पर भी मैं उनकी यादों को दिल से निकाल पा रही हूं। कवियत्रि प्रिया गोस्वामी ने उनकी पुण्यतिथि पर शोक व्यक्त करते कहा कि पूनम शर्मा बहुत ही सरल स्वाभाव व मिलनसार व्यवहार की महिला थीं, उनके व्यवहार को हम आज भी नही भुला पा रहे है। कृष्णकान्त मधुर ने कहा कि इस पुस्तक के बारे में वे मुझे कहा करती थी कि आप जनकनन्दिनी जानकी पर कुछ लिखिए, लेकिन दुर्भाग्य रहा की उनके जीते जी मैं ये पुस्तक नही लिख पाया। मगर उनके संसार से चले जाने पर मुझे एहसास हुआ और मैने उनकी कही बात के अनुसार जनकनन्दिनी जानकी पर पुस्तक लिखी जिसका उनकी पुण्य तिथि पर लोकार्पण किया गया। सभी श्रोताओं को पुस्तक वितरण किया गया। गायत्री मंत्र और पुस्तक विमोचन क साथ कार्यक्रम को समापन किया। 


Popular posts from this blog

मुंबई मे भारी बारीश से 15 की मौत, लोकल ट्रेनों का संचालन रोका गया

अयोध्या में बड़ा हादसाः सरयू में स्नान करते समय एक ही परिवार के 12 लोग डूबे, पुलिस व पीएसी के गोताखोर लगाए गए

एटीएस की छापेमारी: लखनऊ में विस्फोटक के साथ अलकायदा के दो आतंकी गिरफ्तार, कुकर बम मिलने से हड़कंप